Economic survey | हमारे देश की अर्थव्यवस्था की हालत कैसी |

Economic survey 

Economics

बजट पेश होने से पहले संसद में एक दस्तावेज पेश होता है, उसे Economic survey या आर्थिक सर्वेक्षण कहते हैं। 

Economic survey चीज क्या है?

हमारे देश की अर्थव्यवस्था की हालत कैसी है? Economic survey में बीते साल का हिसाब-किताब और आने वाले साल के लिए सुझाव, चुनौतियां और समाधान का जिक्र रहता है। Economic survey को बजट से एक दिन पहले पेश किया जाता है।

Economic survey  कौन तैयार करता है?

वित्त मंत्रालय के अंडर एक डिपार्टमेंट है  इकोनॉमिक डिवीजन चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर यानी CEA की देख-रेख में इकोनॉमिक सर्वे तैयार करती है।

आर्थिक समीक्षा Economic Survey 2022-23: केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट से पहले आज संसद में चालू वित्त वर्ष पर आधारित आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया. जिसको लेकर मुख्य आर्थिक सलाहकार वी. अनंत नागेश्वरन ने मीडिया को संबोधित किया और Economic सर्वे 2022-23 को पेश किया है. 

आर्थिक सर्वेक्षण Economic survey

यह रिपोर्ट पिछले वित्तीय वर्ष में भारत के प्रदर्शन की व्याख्या करती है।
यह सर्वेक्षण महंगाई दर पर विचार करता है।
देश के प्रमुख क्षेत्रों जैसे कृषि, बुनियादी ढांचा और विदेशी मुद्रा भंडार में रुझान की जानकारी मिलती है।
सरकार के सामने आर्थिक चुनौतियों को सूचीबद्ध करता है।
चुनौतियों से पार पाने के लिए सुझाव देता है।
यह जीडीपी ग्रोथ के अनुमान की जानकारी देता है।
आर्थिक मामलों का विभाग आर्थिक सर्वेक्षण तैयार करता है। यह विभाग वित्त मंत्रालय के अधीन कार्य करता है। भारत के मुख्य आर्थिक सलाहकार आर्थिक सर्वेक्षण की तैयारियों का पर्यवेक्षण करते हैं। भारत के वर्तमान मुख्य आर्थिक सलाहकार श्री अनंत नागेश्वरन हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *